Vinita Yadav

Bahut hi umda MJ sir….!! dhanywaad humen kanoon ki jaankaari dene ke liye. Ye sab janna chahiye bhale hum compitition exam mein ho ya nahi…

JAGMAL SIYAG (law student)

Thank you so much man Mohan sir to providing law lecture for law students.These lectures are helpful for judiciary exam and judiciary interview and way of teaching and explaination are wonderful

Vishnu Jatav

You conveyed very important information as it needs of current India scenario. I Highly appreciate your work. My query is about the law behind being ineligible for government jobs after having any court case against one. What is the exact truth? As I know, if an FIR or court case is made against a person then he would be ineligible for govt. job for a lifetime whether he is found guilty or not, because a documental record is maintained for a lifetime and while having police verification during job posting it is claimed that this person has a criminal track record (however he was not found guilty). I don’t know what is a correct law about this but I want to know more and clear information on this. And I believe that you are the correct person who can clarify this doubt. SO, I hope you will make a video about this topic. I will be very thankful to you. Stay blessed. Have a nice time.

YoG ShaKuntalam

Thanks, sir for ur great effort to spread such awareness in society……so that the people can utilize their knowledge with fundamental rights in a proper manner…..without being afraid of Police atrocities …..which has become a characteristic since the colonial era…….

अजय धावाद

नमस्कार सर,

कुछ दिनों से में घर पर ही MPPSCकी तैयारी कर रहा रहा था , पिछले वर्षों के प्रश्न पत्रों को हल भी किया, लेकिन उनमे सिविल अधिकार अधिनियम, अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण ) अधिनियम 1989 एवं मानव अधिकार सरक्षण अधिनियम के प्रश्न मेरे समक्ष चुनोती खड़ी कर रहे थे कुछ प्रश्नो के उत्तर तो इधर उधर से देख कर दे पाया पर बहुत से प्रश्न ऐसे भी थे जिनका उत्तर मुझे नही मिल रहा था। तो फिर मेने इस के लिए बुक लेना उचित समझा एवं वर्तमान में इन अधिनीयमो के लिए सबसे ज्यादा विश्वनीय पुस्तक श्री मनमोहन सर द्वारा लिखित ” विशेष अधिनियम” को मैने आनलाइन बुलवा लिया यह पुस्तक ऐमज़ॉन पर आसानी से मिल जाती है, इसी पुस्तक से विशेष अधिनियम से समन्धित सारे प्रश्नों के उत्तर भी मुझे मिले और में अधिनियम को और ज्यादा समझ पाया। इस पुस्तक से मेरे लक्ष्य के लिए मेरी राह कुछ हद तक आसान हो गयी है।

लेखक श्री मनमोहन जोशी सर हमेशा ही मेरे लिए प्रेरणास्रोत रहे है,,, किताबो के साथ साथ में इनके यूट्यूब चैनल पर इनके सुविचार और विशेष अधिनियम की लैक्चर सीरीज भी इनके द्वारा अपलोड की गयी है जो किसी भी छात्र के लिए ज्ञान अर्जित करने का बहुत ही अच्छा स्त्रोत है।

अगर किस्मत ने चाहा तो में भी इंदौर कौटिल्य अकेडमी में अध्ययन कर अपना लक्ष्य प्राप्त करूँगा

धन्यवाद श्री मनमोहन जोशी सर

Shopping Cart
0